पृथ्वी दिवस Earth Day आखिर क्यों मनाया जाता है

पृथ्वी दिवस Earth Day

पृथ्वी दिवस Earth Day आखिर क्यों मनाया जाता है : 22 अप्रैल को पृथ्वी दिवस मनाया जाता है। आज आपको बताते हैं कि पृथ्वी दिवस की शुरुआत कब और कहां हुई। इसकी शुरुआत अमेरिकी सीनेटर गेलोर्ड नेल्सन ने पर्यावरण की शिक्षा के रूप में की थी। इस दिन को मनाने की शुरुआत सबसे पहले 1970 में हुई। इसके बाद से इस दिन को लगभग 195 से अधिक देश पृथ्वी दिवस (Earth Day)  के रूप में मनाते हैं।

पृथ्वी दिवस का उद्देश्य

इस दिवस का उद्देश्य है पृथ्वी को खूबसूरत बनाना। पृथ्वी को सुरक्षित रखना। पृथ्वी का अच्छे से देखभाल करना। पर्यावरण संरक्षण पर ध्यान केंद्रित करना। धरती पर उपलब्ध प्राकृतिक संसाधनों का उचित उपयोग करना।

धरती हमारी रहे खूबसूरत

पिछले साल आई महामारी के कारण बहुत कुछ बदलाव देखने को मिले। इस कोरोना महामारी के कारण पूरी दुनिया लॉकडाउन में थी। अब भी आंशिक लॉकडाउन चल रहा है। लोगो के घरों में कैद होने से जानवर बाहर आ गए हैं। ओ चिड़ियां दिखने लग गई हैं जिन्हें हमने बचपन में देखा था। प्रदूषण का स्तर कम हुआ है।हर बार की अपेक्षा गर्मी कम पड़ी। ये सब देखकर ऐसा लगा, मानों पृथ्वी ने अपना जिम्मा खुद अपने हाथों में ले लिया हो।

Earth Day के दिन खुद से एक वादा करते हैं कि अपनी प्यारी पृथ्वी की खूबसूरती को बनाकर तो रखना ही है। इसके साथ साथ धरती माता को अत्यधिक प्राकृतिक और सुंदर बनाने की पहल करना है। पृथ्वी दिवस एक वार्षिक आयोजन है। जिसे 22 अप्रैल को विश्व भर में पर्यावरण संरक्षण के प्रति लोगो को जागरूक करने के लिए आयोजित किया जाता है। पर्यावरण सरंक्षण को समर्थन दिया जाता है। इस तारीख के समय उत्तरी गोलार्द्ध में वसंत और दक्षिणी गोलार्द्ध में शरद का मौसम रहता है।

धरती हमारी माता है

धरती को हमने माता कहा है लेकिन हम माता की तरह उनके साथ बरताव नही करते। जहां देखो वहा गंदगी फ़ैला रखा है। जिसका जहां मन हुआ वहा कूड़ा करकट डाल के निकल लेता है। लोग पेड़ों को काट काट कर धरती की सुंदरता को कम कर दे रहे । पृथ्वी दिवस का मुख्य उद्देश्य यही है कि अपनी धरती मां की सुंदरता को बनाए रखें। धरती मां की सुरक्षा करें। पेड़ो को काटने के बजाय पेड़ों को लगाए। जन्मदिन, मैरिज एनिवर्सरी, बच्चे के जन्म पर पेड़ लगाएं। मंहगे गिफ्ट की जगह हरे भरे पेड़ भेंट करें। जिससे हमारा ही फायदा है। हम खुली हवा में सांस ले सके।अपनी धरती मां को हरा भरा बनाए रखें।

लोग पानी का अनायास दोहन किए जा रहे हैं। जिसकी वजह से पानी का स्तर दिन प्रतिदिन गिरता जा रहा। पानी की बरबादी को बंद करना होगा। बारिश के पानी को टैंक में एकत्रित करें। धरती को हरा भरा रखने में मदद करें। नदियों को दूषित न करें। पृथ्वी दिवस मनाने का मुख्य उद्देश्य यही है की हम अपनी पृथ्वी को खूबसूरत बनाए। पृथ्वी पर उपलब्ध प्राकृतिक संसाधनों का बेवजह दोहन न करें। पर्यावरण को स्वच्छ बनाए।

पृथ्वी दिवस संकल्प

इस पृथ्वी दिवस पर संकल्प लें की हम सब मिलकर धरती मां को खूबसूरत बनाएंगे। पर्यावरण को साफ सुथरा रखेंगे। अधिक से अधिक पेड़ लगाए। पानी की बरबादी नही करेंगे।जीव जंतुओं की देखभाल करेंगे। गिफ्ट के रूप में हरा भरा पौधा भेंट करें। वर्तमान में जनसंख्या विस्फोट के कारण लोग जंगलों को काट काट कर अपने रहने का घर बना रहें। हमे जनसंख्या नियंत्रण पर ध्यान देना चाहिए। जंगलों को काट कर उद्योग स्थापित किए जा रहे हैं। यदि आप 2 पेड़ काट रहे हैं तो 4पौधे जरूर लगाएं।

वर्तमान में आई कोरोना महामारी ने लोगो को घर में कैद कर दिया। इस समय का भरपूर उपयोग धरती को सुंदर बनाने में किया जा सकता है। तरह तरह के पौधे लगाए। जीव जंतुओं का ध्यान रखें। इनके लिए पानी दाना की व्यवस्था करें। घर पर ही हरी सब्जियां लगाएं। खेतों में रसायन का कम उपयोग करे। रसायन से हमारी पृथ्वी को काफी नुकसान होता है।वर्तमान में रसायन का प्रयोग ज्यादा ही होता है। इसी वजह से कैंसर जैसी बड़ी बड़ी बीमारी आम हो गई है। पृथ्वी दिवस पर यह संकल्प करें की धरती को स्वर्ग बनाना है।

महामारी से बचाव के लिए योग व्यायाम को अपनी दिनचर्या में शामिल करिए। सुबह की शुरुआत काढ़ा से करे। घर में बनी शुद्ध हरी सब्जियां खाएं। फास्टफुड से बचें। तेल वाली चीजों का कम सेवन करें। एक दूसरे के साथ मस्ती मजाक करे । प्रसन्न रहें। ये समय भी बीत जाएगा। खुश रहिए मस्त रहिए।

★  अंतरराष्ट्रीय मजदूर दिवस 

★  विश्व जल दिवस 

 महिला सशक्तिकरण 

 1857 की क्रांति एवं क्रांति के तात्कालिक कारण 

Leave a Comment

error: Content is protected !!